उपखंड कार्यालय पर धरना-प्रदर्शन कर सौंपा ज्ञापन

महावीर मूंडली

मांगरोल (मातृभूमि न्यूज़)। मांगरोल भीम आर्मी भारत एकता मिशन मांगरोल के कार्यकर्त्ताओ ने जालौर मटकी प्रकरण को लेकर भीम आर्मी मांगरोल ने मुख्यमंत्री के नाम उपखंड अधिकारी मांगरोल को ज्ञापन सौंपा। पूर्व जिलाप्रभारी पीयूष अम्बेडकर ने बताया कि जालौर जिले में दलित छात्र इंद्र कुमार मेघवाल की निर्मम हत्या के प्रकरण को लेकर मृतक आश्रित को सरकारी नौकरी और उचित मुआवजा दिए जाने के संबंध में ज्ञापन सौंपा। जालौर के सायला थाना क्षेत्र में दलित छात्र छुआछूत और जातिगत भेदभाव की घृणित मानसिकता के कारण  हुई निर्मम हत्या ने पूरे देश और प्रदेश को विचलित कर दिया है। आज़ादी के 75 वर्ष बाद भी समाज के वंचित वर्ग के साथ इस प्रकार अमानवीय व्यवहार शर्मसार करने वाला है। इस घटना से पूरे प्रदेश का दलित समाज उद्वेलित है। सरकार द्वारा पीड़ित परिवार को 5 लाख मुआवजा देना एक प्रकार से पूरे बहुजन समाज के साथ धोखा है। 

भीम आर्मी मांगरोल ने उक्त प्रकरण की गंभीरता देखते हुए मांग की है कि पीड़ित परिवार को 50 लाख रुपये का मुआवजा व एक सरकारी नौकरी, आरोपी की फांसी की सजा, पीड़ित परिवार व परिजनों के ऊपर लाठीचार्ज करने वाले दोषी अधिकारियों पर कार्यवाही, मृतक को जबरदस्ती रात के अंधेरे में दफनाने वाले दोषी अधिकारी पर कठोर कार्रवाई, और ऐसे प्रकरण देश व प्रदेश में आगे से न हो इसके लिए सख्त कानून बनाने की मांग की गई। 

भीम आर्मी भारत एकता मिशन ने चेतावनी दी कि हमारी मांगे पूरी न हिने पर उग्र आंदोलन किया जाएगा, जिसकी जिम्मेदारी शासन व प्रशासन की होगी। इस विरोध प्रदर्शन में भीम आर्मी पूर्व जिलाध्यक्ष मुरलीसिंह डंडोरिया, आज़ाद समाज पार्टी युवा मोर्चा पूर्व जिलाध्यक्ष अजय डागर, भुवनेश अम्बेडकर, दिलखुश बैरवा, अरविंद , रामस्वरूप, कुलदीप सनगत, आसाराम डागर, राजकुमार, गौरव, रामलखन, रामप्रसाद बैरवा, मोहनलाल कामड़, रामलखन वाल्मीकि, जितेंद्र, चेतन रेगर, पुरुषोत्तम, रामदेव, नरेंद्र, सुरेंद्र रेगर, पवन रेगर, अनिल रेगर, सोनू सिसोदिया, राकेश शेरावत, जानकी लाल बैरवा, गोरधन बैरवा, लोकेश गोमिल, प्रदीप बैरवा, मनजीत बैरवा, शंभूलाल आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: